कार्यकर्ताओं से बोले मोदी- मौज-मस्ती के लिए नहीं PM पद, हमने काम करके दिखाया

0
9

वाराणसी के रण में एक बार फिर जीत हासिल करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपना नामांकन करेंगे. पीएम मोदी के नामांकन के दौरान जनता दल (यूनाइटेड) के अध्यक्ष नीतीश कुमार, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, अकाली दल के अध्यक्ष प्रकाश सिंह बादल समेत अन्य सहयोगी दलों के नेता भी मौजूद रहेंगे. प्रधानमंत्री मोदी सुबह 11 बजे वाराणसी के कलेक्ट्रेट में पर्चा भरेंगे. नामांकन से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने होटल डी पैलेस, कैंट में बीजेपी कार्यकर्ताओं को भी संबोधित किया. गुरुवार को प्रधानमंत्री ने रोड शो कर अपनी ताकत का एहसास कराया था.
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यहां कार्यकर्ताओं से बताया कि काशी जीतने का काम कल ही पूरा हो चुका है, अब हमें पोलिंग बूथ जीतना है. मोदी हारे या जीते वो गंगा मैया देख लेगी, लेकिन मेरे बूथ का कार्यकर्ता नहीं हारना चाहिए. हमारा लक्ष्य पोलिंग बूथ जीतना होना चाहिए.उन्होंने कहा कि इस बार हमें मतदान के सभी रिकॉर्ड तोड़ देने हैं, मोदी कितने वोट से जीते ये मायने नहीं रखता. मैं गुजरात में चाहता था कि पुरुषों की तुलना में महिलाओं को मतदान 5 फीसदी ज्यादा होना चाहिए, लेकिन वाराणसी में इस बार ऐसा ही होना चाहिए. नरेंद्र मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री का पद किसी मौज-मस्ती के लिए नहीं है, हमने पिछले पांच साल में काम करके दिखाया है.
प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं पिछले डेढ़ महीने से देश का भ्रमण कर रहा हूं, मैं-अमित शाह-योगी सब कार्यकर्ता निमित हैं, इस बार चुनाव देश की जनता ही लड़ रही है. पहली बार लोगों ने देखा कि सरकार चलती भी है. पीएम ने कहा कि मैंने कभी ऐसा नहीं कहा कि अब मैं पीएम, पार्टी को समय नहीं दे पाऊंगा. उन्होंने कहा कि 5 साल में एक कार्यकर्ता के नाते पार्टी ने जितना भी समय मांगा तो मैंने मना नहीं किया. कार्यसमिति की बैठक में भी मैं बतौर कार्यकर्ता पूरा समय बैठा. उन्होंने कहा कि मैं पीएम, सांसद और कार्यकर्ता के नेता पांचों साल सजग रहा. प्रधानमंत्री ने कहा कि हम एक ग्वाले की तरह हैं, जो भारत माता की सेवा कर रहे हैं. पीएम बोले कि ये चुनाव सिर्फ मोदी नहीं लड़ रहा है, बल्कि ग्वाले लड़ रहे हैं. 
BJP कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कल जो दृश्य मैं देख रहा था उसमें आपके पसीने की महक आ रही थी. मैं भी बूथ का कार्यकर्ता रहा हूं, मुझे भी दीवारों पर पोस्टर लगाने का सौभाग्य मिला है. PM ने कहा कि आज देश में लोग खुद कह रहे हैं कि फिर एक बार मोदी सरकार. इस बार पॉलिटकल पंडितों को काफी माथापच्ची करनी पड़ेगी. उन्होंने कहा कि जनता मन बना चुकी है, ये इतिहास में पहला मौका है जब इस तरह का चुनाव लड़ा जा रहा है.
 

LEAVE A REPLY