अखिलेश बोले, ‘रैली में सांड ज्ञापन देने घुसा, BJP राज में अनाथ सांडों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है’

0
8

कन्नौज में गुरुवार (25 अप्रैल) को एक रैली के दौरान एक सांड ने जमकर उत्पात मचाया. सपा-बसपा और आरएलडी महागठबंधन का संयुक्त रैली में अखिलेश यादव और बीएसपी प्रमुख मायावती पहुंचने वाली थीं. लेकिन इन दोनों नेताओं के पहुंचने से सभा के बीच में एक सांड घुस आया और वहां जमकर तांडव मचाया, जहां अखिलेश यादव और मायावती हेलीकॉप्टर उतरने वाला था. कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस प्रशासन और कार्यकर्ताओं की मदद से सांड को मैदान से हटाने में मदद मिली तब जाकर गठबंधन के नेताओं का हेलीकॉप्टर जमीन पर उतारा जा सका. इस घटना को लेकर पूर्व सीएम अखिलेश ने मंच से अपने संबोधन में सूबे की योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा, वहीं, उन्होंने शुक्रवार (26 अप्रैल) को एक बार फिर ट्वीट कर सूबे की सरकार पर तंज कसा. 
‘विकास’ पूछ रहा है
उन्होंने अपने ट्विटर पर ट्वीट कर कहा, ‘विकास’ पूछ रहा है: आजकल आप देख रहे हैं कि नहीं कि किस तरह अनाथ सांडो का गुस्सा बढ़ता जा रहा है? कल रैली में एक सांड अपना ज्ञापन देने घुस आया और भाजपा सरकार का गुस्सा बेचारे सिपाही पर निकाल डाला, जब उसे बताया कि ये उनको बेघर करने वालों की रैली नहीं है, तब जाकर वो शांत हुआ.

मंच से साधा था निशाना
पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष मुलायम सिंह ने कल मंच से निशाना साधते हुए कहा कि ये सांड अपनी शिकायत लेकर आज यहां आया है, उसे लगा कि यह हरदोई वाला हेलीकॉप्टर है. अखिलेश ने रैली को संबोधित करते हुए कि, हमने डीजीपी को फोन किया और कहा- कोई हमारी सभा को खराब करने आया है, तो वह बात समझ नहीं पाए और फिर सवाल किया कौन है? फिर हमने बात बताई जिसके बाद सांड को मैदान से भगाया जा सका. सांड को भगाने के लिए कार्यकर्ता, फायर ब्रिगेड और पुलिस ने खासी मशक्कत की. आधे घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद सांड़ को किसी तरह भगाया गया, तब प्रशासन की जान में जान आई. 
रैली के बाद किया ट्वीट
कार्यक्रम के बाद योगी सरकार पर इस मामले को लेकर तंज कसते हुए अखिलेश यादव एक ट्वीट किया. उन्होंने लिखा, '21 महीनों में हमने एक्सप्रेस-वे बनाया था, लेकिन पिछले 2 सालों में जनता 5 करोड़ आवारा पशुओं से परेशान हो गई है. अगर सरकार राजनीतिक कार्यक्रमों में सांड को घुसने से नहीं रोक पा रही है, तो ग़रीब किसानों का क्या हाल हो रहा होगा यह बस वही जानते होंगे.

LEAVE A REPLY