शीशे के घरों में रहने वालों को नहीं मिलता विटामिन डी

0
8

वाशिंगटन। जो लोग शीशे के घरों में रहते हैं, उन्हें सूर्य की रोशनी तो मिलती हैं, किंतु स्वस्थ जीवन जीने के लिए हड्डियों को मजबूत बनाए रखने के लिए जिस विटामिन डी का योगदान होता है, वह उन्हें नहीं मिलता है। सूरज की रोशनी कैल्शियम के लिए बहुत जरूरी होती है। लेकिन सूर्य के प्रकाश में उपस्थित पराबैंगनी किरणें अल्ट्रावायलेट, जो विटामिन डी का निर्माण करती हैं। वह शीशे से टकराकर अंदर नहीं आ पाती हैं। जिसके कारण विटामिन डी शरीर को नहीं मिलता है। सूर्य के प्रकाश में दो प्रकार की पराबैंगनी किरणें यूवीए और यूवीबी होती हैं। यूवीए त्वचा में अंदर तक प्रवेश करने में सक्षम होती है। यह समय से पहले झुर्रियों का कारण बन सकती है। वहीं यूवीबी त्वचा पर जलन और लाल निशान का कारण बनते हैं। इससे ही विटामिन डी के निर्माण की प्रक्रिया शुरू होती है। जो हड्डियों को मजबूत बनाती हैं।

LEAVE A REPLY