चित्रकूट में मध्य प्रदेश के तीर्थ यात्रियों से भरी डबल डेकर बस पलटी, 60 यात्री घायल

0
31

जिले में कर्वी मुख्यालय से करीब 20 किलोमीटर दूर रैपुरा थानांतर्गत झांसी-मीरजापुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर मध्यप्रदेश के विदिशा व सागर जिले से डबल डेकर बस पर सवार होकर पूर्वजों के पिण्डदान करने के निकले 65 यात्रियों से भरी डबल डेकर बस पलट गई। इसमें 40 लोगों को ज्यादा चोटें आई हैं। कुछ घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जबकि 20 को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

घायल तीर्थ यात्रियों ने बताया कि सोमवार को श्री विश्वनाथ तीर्थ यात्रा संघ के माध्यम से राहतगढ़ सागर व विदिशा शहर से डबल डेकर बस पर सवार होकर सभी लोग पहले मैहर पहुंचे। वहां दर्शन करने के बाद बुधवार को चित्रकूट आए। यहां दिन व रात में कामदगिरि दर्शन, रामघाट स्नान के बाद देर रात हनुमानधारा समेत अन्य धार्मिक स्थलों के दर्शन किए। गुरुवार सुबह करीब चार बजे सभी बस से इलाहाबाद व वाराणसी जाने के लिए निकले थे।

कर्वी मुख्यालय से करीब 20 किलोमीटर दूर रैपुरा थानांतर्गत भौंरी के पास हाईवे की निर्माणाधीन पुलिया तरकहवा के पास बस चालक ने आगे चल रहे वाहन को ओवरटेक करने की कोशिश की तभी अचानक सामने आए ट्रक ने टक्कर मार दी। इससे घबराया चालक चलती बस कूद गया। अनियंत्रित बस कुछ दूर जाकर पलट गई। इससे बस पर सवार तीर्थ यात्रियों में चीख पुकार मच गई। तकरीबन 40 लोग घायल हुए हैं। इनमें करीब 20 ज्यादा घायलों को कर्वी मुख्यालय के सोनपुर स्थित जिला अस्पताल लाया गया है।

अस्पताल में डॉक्टरों कर्मियों के हाथ पांव फूल गए। एक बेड पर दो से तीन मरीज लिटाने पड़े। एसडीएम सीओ से लेकर पुलिस बल ने घायलों को आसपास के ग्रामीणों की मदद से बाहर निकाल कर पहुंचाया लेकिन जिला अस्पताल में लापरवाही दिख रही है।

यह गंभीर रूप से घायल

मुन्नी बाई (60) पत्नी ओमकार, गौराबाई (55) पत्नी जीवन लाल, जीवन लाल (60) पुत्र बाला प्रसाद, शान्ति बाई (52) मान सिंह, ब्रजबाला (50) पत्नी रतन सिंह, मुन्ना (53) पुत्र ललकू, नाथूराम (63) पुत्र हलके, लक्षमी बाई (48) पत्नी मुन्ना लाल, लक्ष्मण सिंह (60) पुत्र शिशुपाल सभी निवासी प्योंदा थानाक्षेत्र जिला विदिशा, मध्य प्रदेश। करण सिंह (70) पुत्र चुन्ना प्रसाद विदिशा और माया बाई (48) पत्नी राजाराम निवासी राहत गढ़ सागर, मध्य प्रदेश।